पंच परमेष्ठी भजन अरहंत जय जय , सिद्ध प्रभु जय जय | साधू जीवन जय जय , जिन धर्म जय ...

भगवान मेरी नैया ,उस पार लगा देना ,अब तक तो निभाया है ,आगे भी निभा देना ।। हम दीन ...

मेरे गुरुवर जहाँ आ जायेवहाँ लग जाता भक्तों का तांतामेरे गुरुवर जहाँ आ ...